SMS List

दिल को जहान भर के मुहब्बत के ग़म मिले,
  कमबख़्त फिर भी सोच रहा है कि कम मिले।
कुछ वक़्त ने भी साथ हमारा नहीं दिया,
  कुछ आप की नज़र के सहारे भी कम मिले।
बे-इख़्तियार आँखों से आँसू छलक पड़े,
  कल रात अपने आप से जिस वक़्त हम मिले।
खोया हुआ है आज भी पस्ती में आदमी,
  मिलने को इसके, चाँद पे नक़्श-ए-क़दम मिले।
'रहबर' हम इस जनम में जिसे पा नहीं सके,
  शायद कि वो सनम हमें अगले जनम मिलें।

shashikant 20 Oct 2016 ·

मंदिर मे दिया जाये तो ( चढ़ावा )..,
स्कुल में ( फ़ीस )..,
शादी में दो तो ( दहेज )..,
तलाक देने पर ( गुजारा भत्ता ) ..,
आप किसी को देते हो तो ( कर्ज ) ..,
अदालत में ( जुर्माना )..,.
सरकार लेती है तो ( कर ) ..,
सेवानिवृत्त होने पे ( पेंशन ) ..,
अपहर्ताओ के लिएं ( फिरौती ) ..,
होटल में सेवा के लिए ( टिप ) ..,.
बैंक से उधार लो तो ( ऋण ) ..,
श्रमिकों के लिए ( वेतन ) ..,
मातहत कर्मियों के लिए ( मजदूरी ) ..,
अवैध रूप से प्राप्त सेवा ( रिश्वत ) ..,
और मुझे दोगे तो (गिफ्ट)

shashikant 20 Oct 2016 ·

मुश्किलें दिल के इरादे आज़माती है...
स्वपन के परदे आँखो से हटाती है
हौसला मत हार गिर के ऐ मुसाफिर
ठोकरे इंसान को चलना सीखती है....

shashikant 20 Oct 2016 ·

कुछ हँस के बोल दिया करो,
कुछ हँस के टाल दिया करो,
यूँ तो बहुत परेशानियां है तुमको भी मुझको भी,
मगर कुछ फैंसले वक्त पे डाल दिया करो,
न जाने कल कोई हंसाने वाला मिले न मिले..
इसलिये आज ही हसरत निकाल लिया करो !!

shashikant 20 Oct 2016 ·

मंजिल मिले ना मिले
  ये तो मुकदर की बात है!
हम कोशिश भी ना करे
  ये तो गलत बात है...
जिन्दगी जख्मो से भरी है,
  वक्त को मरहम बनाना सीख लो,
हारना तो है एक दिन मौत से,
  फिलहाल  जिन्दगी जीना सीख लो..!!

shashikant 20 Oct 2016 ·

Hum jeete EK bar hai,
Marte EK bar hai,
Pyar EK bar hota hai,
Aur shaadi bhi EK hi bar hoti hai..
TO ye EXAMS BAR-BAR KYUN ???

ramdas 02 Apr 2016 ·

Exams ki sari tayyari ho gayi

(';')

Pen
Pencil
Scale
Eraser
Uniform
ID Card

Sub tayyar hay,

Ab bus....

Parhna baqi hay :p

ramdas 02 Apr 2016 ·

teri khushbu ka pata karti hai
mujh pe ehsan hawa karti hai

shab ki tanhai main ab to aksar
guftagu tujh se raha karti hai

dil ko us rah pe chalna hi nahin
jo mujhe tujh se juda karti hai

zindagi meri thi lekin ab to
tere kahne main raha karti hai

us ne dekha hi nahin warna ye ankh
dil ka ehwal kaha karti hai

beniyaz-e-kaf-e-dariya angusht
ret par nam likha karti hai

sham parte hi kisi shakhs ki yad
kucha-e-jan main sada karti hai

mujh se bhi us ka hai waisa hi suluk
hal jo tera ana??? karti hai

dukh hua karta hai kuch aur bayan
bat kuch aur hua karti hai

abr barse to inayat us ki
shakh to sirf dua karti hai

masla jab bhi utha chiragon ka
faisala sirf hawa karti hai

ghazal sms hindi shayari

shashikant 24 Mar 2016 ·

Mujhe Aarzo-e-Seher rahi yunhi raat bhar bari dair tk,

Na Bikhr ska na simat ska yunhi Raat bhar bari dair tk,

Hai Bohat Azab or Akelay hum Shab’e Gham b meri Taweel tar,

Rahi zindgi b Saraab or rehi Ankh Tar bari dair tk,

Yahan her taraf hay ajab Smaan, sab hi Khud’Psand sabhi Khud’Numa

Dil-e-Beqrar ko na mila koi Chara gar bari dair tk,

Meri Zindgi hai Aziz tar isi wasty merey Hum Safar

Mujhy Qatra Qatra pila Zeher jo kary asar bari dair tak.

hindi ghazal sms 2016

shashikant 24 Mar 2016 ·

Na milta gam to barbadi ke afasane kaha jate
Duniya agar hoti chaman to wirane kaha jate,
Chalo acha hua apno me koi gair to nikla,
Sabhi agar hote apne to begane kaha jaate…

shashikant 24 Mar 2016 ·
Page : <<2 3 4 5 6 7 ... 312 » »